वकील की अपील पर बोली निर्भया की मां, भगवान आकर कहें तो भी नहीं करूंगी बेटी के दरिंदों को माफ

पुनः संशोधित शनिवार, 18 जनवरी 2020 (10:42 IST)
नई दिल्ली। निर्भया की मां आशादेवी ने कहा कि अगर भगवान आकर कहें तो भी वे बेटी के साथ दरिंदगी करने वाले गुनाहगारों को माफ नहीं करूंगी। आशादेवी ने कहा कि पूरा देश चाहता है कि दोषियों को फांसी दी जाए। दरअसल, सुप्रीम कोर्ट की जान-मानी वकील ने ट्वीट कर निर्भया की मां से अपील की थी कि वे सोनिया गांधी के उदाहरण अनुसरण करें जिन्होंने राजीव गांधी के हत्यारों को माफ कर दिया।
सोनिया गांधी ने नलिनी को माफ कर दिया था और कहा था कि वे उनके लिए मृत्युदंड नहीं चाहतीं। आशादेवी ने कहा कि मुझे ऐसा सुझाव देने वालीं इंदिरा जयसिंह कौन होती हैं? भगवान आकर कहे तो भी बेटी के दरिंदों को माफ नहीं करूंगी। इंदिरा जैसे लोगों के कारण बलात्कार के पीड़ित को न्याय नहीं मिल पाता। विश्वास नहीं होता कि उन्होंने इस तरह का सुझाव दिया।
ALSO READ:
Case : निर्भया के दोषियों को फांसी अब 1 फरवरी को


कौन है निलिनी : नलिनी 1991 में पूर्व प्रधानमंत्री राजीव गांधी की हत्या की साजिश में शामिल होने की दोषी है। उसे मौत की सजा दी गई थी। बाद में सोनिया गांधी ने उसे माफ कर दिया था।

दिल्ली के पटियाला हाउस कोर्ट ने 7 जनवरी को निर्भया के दोषियों को 22 जनवरी की सुबह 7 बजे फांसी पर लटकाए जाने का डेथ वॉरंट दिया था। 17 जनवरी को नया डेथ वॉरंट जारी किया गया। इसमें 1 फरवरी को सुबह 6 बजे फांसी देने का आदेश दिया गया है।



 

और भी पढ़ें :