0

Easy and Tasty Paneer Recipe: लाजवाब चटपटा पनीर बीरबली, स्वाद ऐसा कि खाते ही रह जाएंगे

शुक्रवार,दिसंबर 13, 2019
Quick Paneer Sabzi
0
1
सर्दी के मौसम में मैथी के पराठे खूब पसंद किए जाते हैं, लेकिन हर जगह इसे बनाने का तरीका अलग-अलग होता है। जा‍निए कैसे बनाते हैं इन प्रदेशों में मैथी के पराठे -
1
2
मैदा, बेकिंग पावडर व नमक को एक साथ छान लें, फिर तेल का मोयन डालकर अच्छी तरह से मलें। गुनगुने पानी के साथ नरम गूंथ लें।
2
3
सबसे पहले लाल मिर्च के डंठल तोड़ लें और रात्रि में एक बर्तन में भिगोकर रख दें। सुबह मिर्च का सारा पानी निथार लें। अब लहसुन की कलियों के छिलके उतार लें।
3
4
सर्वप्रथम आटे में स्वादानुसार नमक व शक्कर डालकर दूध मिश्रित पानी से आटे को थोड़ा गिला गूंथे लेते हैं।
4
4
5
सबसे पहले मक्का आटा छान लें। अब मैथी को अच्छी तरह से धो लें। आटे में मैथी, सौंफ, हींग, लाल मिर्च पावडर, हरी मिर्च और नमक डालकर आटे को मिला लें।
5
6
चटखारेदार काबुली चना चाट बनाने के लिए सबसे पहले चने या छोले को 5 से 6 घंटे के लि‍ए भि‍गोकर रखें।
6
7
सबसे पहले अरबी के पत्तों को नमक के पानी से धो लें। अब बेसन में स्वादानुसार लाल मिर्च, 1 चम्मच सौंफ, 1 चम्मच तिल्ली, हींग, थोड़ा-सा तेल का मोयन और नमक डाले तथा उसे फेंट कर गाढ़ा घोल तैयार कर लें।
7
8
आंवला नवमी पर आंवला वृक्ष के पूजन के साथ-साथ आंवले के व्यंजन खाने का खास महत्व है। आंवला पाचनशक्ति बढ़ाकर भूख बढ़ाता है तथा आलस्य को दूर करता है।
8
8
9
भारत के हर हिस्से में बनने वाली कद्दू की सब्जी का स्वाद अपने आप में बहुत अनूठा होता है। यह सब्जी अलग-अलग स्वाद में बनाई और खाई जाती है। खास तौर पर छठ पर्व के पकवानों में कद्दू की सब्जी का प्रमुख स्थान है।
9
10
बिहार और उत्तरप्रदेश में मनाए जाने वाले छठ पर्व पर ठेकुआ विशेष तौर पर बनाया जाता है। इस व्यंजन को सूर्य की उपासना करने वाले लोग प्रसाद के रूप में चढ़ाते हैं। आइए जानते हैं ठेकुआ बनाने की सरल विधि
10
11
दीपावली का त्योहार हो और नमकीन-मिठाई की बात न हो, यह कैसे हो सकता है? यहां हम पाठकों के लिए लेकर आए हैं 10 तरह के चटपटे, क्रिस्पी, लज्जतदार नमकीन व्यंजनों की 10 आसान विधियां...
11
12
चना दाल, काबुली चना, मसूर 5-6 घंटे पानी में गला दें व पानी निथारकर कपड़े पर फैला दें। तेल गर्म करें व एक-एक करके सभी सामग्रियों को तल लें।
12
13
सभी व्रतधारी महिलाओं के लिए करवा चौथ व्रत में दिन भर भूखे-प्यासे रहना बहुत मुश्किल होता है। ऐसे समय में अपनी और अपने प्रियतम की सेहत का ध्यान रखना हैं
13
14
गेहूं का आटा और मैदा मिला लें। अब उसमें सब सामग्री मिलाकर पूड़ी जैसा आटा गूंथ कर थोड़ी देर के लिए रख दें।
14
15
आटे में शकर डालकर उसका गाढ़ा घोल करके आधे घंटे के लिए रख दें। तत्पश्चात उसमें इलायची पावडर, खसखस के दाने डालकर मिश्रण को एकसार कर लें।
15
16
दाल को कचोरी बनाने के 3-4 घंटे पूर्व भिगो दें। कुछ दाल छोड़ कर बाकी को दरदरा पीस लें। अब कड़ाही में थोड़ा-सा तेल लेकर सौंफ का बघार व हींग डालें, दाल दरदरी एवं खड़ी दोनों को भूनें व सभी मसाले मिलाकर ठंडा कर लें।
16
17
पितृ पक्ष के दिनों में अपने पितरों का तर्पण करते समय उनका पसंदीदा भोजन अवश्य बनाना चाहिए ताकि आपके पितृ प्रसन्न होकर सभी मनोकामना पूर्ण होने का आशीर्वाद आपको दें। आइए जानें पितृ भोग की सरल विधियां
17
18
जैन समाज के सभी घरों में भाद्रपद शुक्ल तृतीया के दिन रोटतीज व्रत मनाया जाता है। इस दिन रोट के साथ खासकर तुरई की सब्जी और चावल की खीर ही बनाई जाती है, जिसका जैन धर्म में बहुत महत्व है। आइए जानें कैसे बनाएं यह व्यंजन :-
18
19
पोला पर्व के पारंपरिक व्यंजन- सबसे पहले एक प्रेशर कुकर में चने की दाल को अच्छी तरह से धोकर, दाल से डबल पानी लेकर
19