0

शाकंभरी नवरात्रि में पढ़ें यह पावन चालीसा, हर मुश्किल होगी आसान

शुक्रवार,जनवरी 3, 2020
shakambari mata
0
1
सरल शब्दों में कहें तो आदित्य ह्रदय स्तोत्र हर क्षेत्र में चमत्कारी सफलता देता है। विशेषकर मकर संक्रांति पर यह पाठ हर तरह के शत्रु से मुक्ति दिलाता है।
1
2
Maa Shakumbhari Aarti- हरि ॐ श्री शाकुम्भरी अम्बाजी की आरती कीजो ऐसी अद्भुत रूप हृदय धर लीजो
2
3
मकर संक्रांति विशेष आरती- ॐ जय सूर्य भगवान, जय हो दिनकर भगवान। जगत् के नेत्रस्वरूपा, तुम हो त्रिगुण स्वरूपा। धरत सब ही तव ध्यान, ॐ जय सूर्य भगवान।। ।।ॐ जय सूर्य भगवान...।।
3
4

Jain Chalisa : भगवान पार्श्वनाथ चालीसा

शुक्रवार,दिसंबर 20, 2019
Jain Chalisa- शीश नवा अरिहंत को, सिद्धन करूं प्रणाम। उपाध्याय आचार्य का ले सुखकारी नाम। सर्व साधु और सरस्वती, जिन मंदिर सुखकार। अहिच्छत्र और पार्श्व को, मन मंदिर में धार।|
4
4
5
भगवान दत्तात्रेय की जयंती पर मंत्रों के साथ-साथ उनके स्तोत्र का भी निरंतर पाठ करने से मनुष्य के जीवन के सभी कष्ट
5
6
जो व्यक्ति किसी भी तरह के व्यापार में हानि, जीवन में आने वाली कठिनाइयां और शत्रु पक्ष से होने वाली परेशानियां तथा जीवन की किसी भी तरह की समस्या से ग्रसित है तो उस व्यक्ति को भैरव स्तुति का पाठ अवश्‍य करना चाहिए।
6
7
देव प्रबोधिनी एकादशी पर आपके पास मंत्र, चालीसा और आरती का समय नहीं है तो इस सरल और मधुर स्तुति से करें पूजन....पाएं अपार धनसंपदा और ऐश्वर्य का आशीर्वाद....
7
8
श्री तुलसी चालीसा के नियमित पाठ से आरोग्य और सौभाग्य का वरदान तो मिलता ही है साथ ही जीवन में पवित्रता आती है और सुख -समृद्धि में वृद्धि होती है।
8
8
9
Jai Tulsi Mata Aarti- जय जय तुलसी माता सब जग की सुख दाता, वर दाता जय जय तुलसी माता ।।
9
10

dev uthani ekadashi ki Aarti: ॐ जय जगदीश हरे

गुरुवार,नवंबर 7, 2019
ॐ जय जगदीश हरे, स्वामी! जय जगदीश हरे। भक्तजनों के संकट क्षण में दूर करे॥
10
11
पाठकों के लिए प्रस्तुत है एकादशी की आरती। इस आरती में सभी एकादशियों के नाम शामिल है। ॐ जय एकादशी, जय एकादशी, जय एकादशी माता। विष्णु पूजा व्रत को धारण कर, शक्ति मुक्ति पाता ।। ॐ।।
11
12
गौ माता की आरती 33 करोड़ देवताओं को प्रसन्न करती है क्योंकि गाय माता के शरीर में समस्त देवों का वास माना गया है।
12
13
भाई दूज पर यमुना माता की आरती उतारी जाती है। यमुना जी की आरती पढ़ने या सुनने मात्र से ही भगवान श्री कृष्ण जी का आशीर्वाद प्राप्त होता है। यमुना जी की आरती सच्चे मन से करने से यम का भय खत्म हो जाता है।
13
14
महालक्ष्मी को प्रसन्न करना है तो पढ़ें लक्ष्मी चालीसा- मातु लक्ष्मी करि कृपा करो हृदय में वास। मनोकामना सिद्ध कर पुरवहु मेरी आस॥
14
15
ॐ जय लक्ष्मी माता, मैया जय लक्ष्मी माता। तुमको निस दिन सेवत हर-विष्णु-धाता॥ ॐ जय...उमा, रमा, ब्रह्माणी, तुम ही जग-माता। सूर्य-चन्द्रमा ध्यावत, नारद ऋषि गाता॥ ॐ जय...
15
16
जय धन्वंतरि देवा, जय धन्वंतरि जी देवा। जरा-रोग से पीड़ित, जन-जन सुख देवा।।जय धन्वं.।। तुम समुद्र से निकले, अमृत कलश लिए। देवासुर के संकट आकर दूर किए।।जय धन्वं.।।
16
17

Ahoi Mata ki Aarti : जय अहोई माता, जय अहोई माता

शुक्रवार,अक्टूबर 18, 2019
Ahoi mata ki Aarti- अहोई अष्‍टमी पर पढ़ें अहोई मां की आरती। जय अहोई माता, जय अहोई माता! तुमको निसदिन ध्यावत हर विष्णु विधाता
17
18
Lord Kartikeya aarti- जय जय आरती जय जय आरती वेणु गोपाला वेणु गोपाला वेणु लोला पाप विदुरा नवनीत चोरा
18
19
जय सिद्धिदात्री तू सिद्धि की दाता तू भक्तों की रक्षक तू दासों की माता, तेरा नाम लेते ही मिलती है सिद्धि तेरे नाम से मन की होती है शुद्धि कठिन काम सिद्ध कराती हो तुम हाथ सेवक के सर धरती हो तुम,
19
विज्ञापन
Traveling to UK? Check MOT of car before you buy or Lease with checkmot.com®